To subscribe By E mail

Enter your email address:

Click Here To Subscribe On Mobile

Monday, November 14, 2011

घ्रणा


घ्रणा से
घ्रणा ही पनपती है
घ्रणा करने वालों से
घ्रणा करना भी घ्रणा है
14-11-2011-9
डा.राजेंद्र तेला,'निरंतर"
अजमेर (राजस्थान)

No comments: